जौनपुर: बैंक खाते से लिंक नहीं, फिर भी आधार से निकल गया 35 हजार | #AAPKIUMMID - उम्मीद

Breaking

Wednesday, May 1, 2019

जौनपुर: बैंक खाते से लिंक नहीं, फिर भी आधार से निकल गया 35 हजार | #AAPKIUMMID

जौनपुर। यूनियन बैंक की स्थानीय शाखा में स्थित महिला का बैंक खाता आधार से लिंक नहीं है फिर भी आधार से उसके खाते से 35 हजार रुपये निकाल लिए गए। बुधवार को पासबुक अपडेट कराने पहुंची महिला को खाते से रुपये गायब होने की जानकारी हुई तो उसके होश उड़ गए। उसने शाखा प्रबंधक से इसकी शिकायत की तो जांच में महिला का दावा सही पाया गया कि उसका आधार उसके खाते से अभी तक लिंक नहीं है। इस घटना से बैंक कर्मचारियों औक खाताधारकों में भी हड़कंप मच गया। इस बात की जानकारी होने पर पचास से अधिक लोग खाते का बैलेंस चेक कराने बैंक पहुंच गए।

मछलीशहर कोतवाली क्षेत्र  के सकरा गांव निवासी सुनीता देवी पत्नी निर्भय कुमार पांडे का यूबीआई की बरईपार शाखा में बैंक खाता है। बुधवार को सुनीता देवी काफी दिनों बाद अपना बैंक पासबुक अपडेट कराने बैंक  पहुंची। पता चला कि खाते से 35 हजार रुपये निकाल लिए गए हैं। जिसमें पांच हजार रुपये चार अगस्त 2018 को, 10 हजार रुपये 6 अगस्त को और 10 हजार 3 अक्तूबर को और इतनी ही रकम 19 नवंबर 2018 को खाते से निकल ली गई है।
महिला खाताधार ने इसकी शिकायत शाखा प्रबंधक से की। जांच पड़ताल के बाद शाखा प्रबंधक नारायण सिंह ने पीडि़त को बताया कि एक फ्रेंचाइजी से आधार कार्ड के माध्म से उइस खाते से पैसे निकाले गए हैं। महिला ने बैंक शाखा प्रबंधक से कहा कि जब उसने अपना आधार खाते से लिंक ही नहीं कराया है तो फिर आधार से कैसे पैसा निकल गया।
शाखा प्रबंधक ने जांच पड़ताल की तो महिला का यह भी दावा सही निकला। शाखा प्रबंधक ने बताया कि सुनीता का आधार उसके खाते से वाकई लिंक नहीं है। किसी दूसरे का आधार उसके खाते से लिंक हो गया। किसी का आधार कार्ड दूसरे के खाते से कैसे लिंक हो गया। इसकी जांच की जा रही है। सेंट्रल ऑफिस को मैसेज किया गया है जल्दी जांच कर ली जाएगी। सुनीता ने बताया कि बच्चों की फीस के लिए खाते में पैसे संजोकर रखे थे।
कैसे लिंक होता है खाते से आधार 
जौनपुर। बैंक खाते से आधार लिंक कराने के लिए बाकायदा खाताधारक से अप्लीकेशन लिया जाता है। आधार की फ़ोटो कॉपी के साथ बैंक में जाकर खाताधारक को हस्ताक्षर करना होता है। हस्ताक्षर मिलान के बाद आधार खाते से लिंक करा दिया जाता है। सवाल उठता है कि जब महिला ने आधार से लिंक कराने के लिए कोई प्रार्थना पत्र भी नहीं दिया तो उसके खाते से कैसे आधार जोड़ दिया गया। सुनीता घर आने के बाद जब खाते से पैसे गायब होने की जानकारी पास पड़ोस के लोगों को दी तो पचास से अधिक की संख्या में लोग अपने अपने खाते के बैलेंस की जांच करने बैंक पहुंच गए।




DOWNLOAD APP



No comments:

Post a Comment

नीचे दिए गए प्लेटफार्मों से जुड़कर लगातार पढ़ें खबरें...

-----------------------------------------------------------
हमारे न्यूज पोर्टल पर सस्ते दर पर कराएं विज्ञापन।
सम्पर्क करें: मो. 8081732332, 9918557796
-----------------------------------------------------------
आप की उम्मीद न्यूज पोर्टल
डिजिटल खबर एवं विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें।
मो. 8081732332, 9918557796
-----------------------------------------------------------


-----------------------------------------------------------


-----------------------------------------------------------

Post Bottom Ad