जौनपुर: बने चरित्रवान तब होगा देश महान: स्वामी रामदेव | #AAPKUMMID - उम्मीद

Breaking

Saturday, January 12, 2019

जौनपुर: बने चरित्रवान तब होगा देश महान: स्वामी रामदेव | #AAPKUMMID

  • पीयू में स्वामी विवेकानंद की जयंती पर आयोजित हुआ राष्ट्रीय युवा दिवस समारोह
  • युवा शक्ति-देश भक्ति के नारों से गूंजा परिसर
जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में स्वामी विवेकानंद की जयंती पर आयोजित राष्ट्रीय युवा दिवस में बड़ी तादात में विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों ने शिरकत की। योग गुरु स्वामी रामदेव के साथ विद्यार्थी योग कर आनंदित हो उठे। देश भक्ति के नारों से पूरा विश्वविद्यालय परिसर गूंज रहा था। शनिवार को विश्वविद्यालय परिसर के आयोजित समारोह में बतौर मुख्य अतिथि योग गुरु स्वामी रामदेव ने कहा कि युवा सच्चे मार्ग पर चले और इतना ही नहीं सच्चे मार्ग पर चलने वालों को ताकत दें।

उन्होंने युवाओं में जोश भरते हुए कहा कि शरीर से बलवान, मस्तिष्क से प्रज्ञावान, हृदय से श्रद्धावान, ऐश्वर्य से धनवान और आचरण से चरित्रवान, तब होगा मेरा भारत महान। देश में ज्ञान, विज्ञान, अनुसन्धान की कमी नहीं है लेकिन विश्वगुरु बनने के लिए हमें अखंड, प्रचंड पुरुषार्थ की जरूरत  है। यह युवा ही दे सकते है। इसके लिए हमें विवेकानंद के ध्येय वाक्य उठो, जागों और तब तक चलते रहो जब तक मंजिल न मिल जाये के अनुसरण की जरूरत है । यह कार्य योग से मजबूत किये शरीर बिना संभव नहीं। उन्होंने युवाओं को संकल्प दिलाया कि  हम कभी जात-पात ,मजहब के आधार पर भेदभाव नहीं करेंगे।

विशिष्ट अतिथि जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर यतींद्रानंद गिरि जी महाराज ने कहा कि बाबा रामदेव के योग से एक असंस्कारिक व्यक्ति जिसको डाक्टरों ने जवाब दे दिया था वह ठीक हो गया क्योंकि योग ही संसार की भोगवृत्ति को मिटाता है। हमारे देश के युवाओं में आत्मबल और चरित्रबल है जिसमें हमारी पहचान है। जबकि पाश्चात्य संस्कृति की पहचान सुन्दर पैकिंग में है।  उन्होंने कहा कि युवा नौकरी के पीछे भागना छोड़ कर मालिक बने। स्वरोजगार को अपनाएं।
कुलपति प्रो. राजाराम यादव ने स्वामी रामदेव का स्वागत अपने गीत जयति जयति से किया। उन्होंने कहा कि भारत आध्यात्मिक राष्ट्र है लेकिन पश्चिम के देश आर्थिक प्रगति कर रहे है। इसके लिए हमने स्वामी विवेकानंद के विचारों से सीख लेने की जरुरत है। उन्होंने देश भक्ति के गीत सुनाये। उन्होंने  कहा कि हमारे यहां  के विद्यार्थियों में वसुधैव कुटुंबकम की भावना होनी चाहिए तभी हम विश्व का नेतृत्व कर सकेंगे।
कार्यक्रम के संयोजक एवं राष्ट्रीय सेवा योजन के समन्वयक राकेश यादव ने स्वागत भाषण के साथ राष्ट्रीय सेवा योजना की उपलब्धियों को गिनाया। रोवर्स रेंजर के समन्वयक डॉ जगदेव ने भी सम्बोधित किया। समारोह का सञ्चालन जनसंचार विभाग के अध्यक्ष डॉ मनोज मिश्र ने किया।
समारोह में स्वामी रामदेव ने मंच से विद्यार्थियों को योग कराया। योग के साथ साथ वे जोश भी भरते रहे।  ताड़ासन, शीर्षासन, सर्वांगासन, हलासन, पश्चिमी ताड़ासन, सूर्य नमस्कार, कपाल भाति एवं अनुलोम विलोम कराया। हाथों के बल पर चल कर दिखाया तो तालियों से समारोह गूंज उठा।
समारोह में आजमगढ़ मऊ गाजीपुर जौनपुर जनपद के महाविद्यालयों के राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक सेविकाए भारी संख्या में शामिल हुए। इसके साथ ही रोवर्स रेंजर्स के कैडेटों ने  तालियों की गड़गड़ाहट से स्वामी रामदेव का स्वागत किया।
इस अवसर पर कुलसचिव सुजीत कुमार जायसवाल, वित्त अधिकारी एमके सिंह, डॉ. अंशुमाली, मुख्य केंद्र प्रभारी राकेश, प्रो. बीबी तिवारी, प्रो. रंजना प्रकाश, प्रो. हरि प्रकाश, डॉ. राजीव प्रकाश सिंह, डॉ. समर बहादुर सिंह, डॉ. विजय कुमार सिंह, प्रो. अशोक कुमार श्रीवास्तव, डॉ. राजकुमार, डॉ. उदय भान, डॉ. वीरेंद्र विक्रम यादव, डॉ. मनराज यादव, आचार्य संजीव, अचल हरिमूर्ति, दुर्गेश, रामाशीष, सुनीता, संदेश योगी, केएस तोमर, संजय श्रीवास्तव समेत तमाम महाविद्यालयों के प्राचार्य, प्रबंधक, विद्यार्थी मौजूद रहे।





DOWNLOAD APP



नीचे दिए गए प्लेटफार्मों से जुड़कर लगातार पढ़ें खबरें...

-----------------------------------------------------------
हमारे न्यूज पोर्टल पर सस्ते दर पर कराएं विज्ञापन।
सम्पर्क करें: मो. 8081732332, 9918557796
-----------------------------------------------------------
आप की उम्मीद न्यूज पोर्टल
डिजिटल खबर एवं विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें।
मो. 8081732332, 9918557796
-----------------------------------------------------------


-----------------------------------------------------------


-----------------------------------------------------------

Post Bottom Ad