जौनपुर: जल स्रोतों का बाजारीकरण मानव जीवन के लिए घातक | #AAPKIUMMID - उम्मीद

Breaking

Wednesday, November 21, 2018

जौनपुर: जल स्रोतों का बाजारीकरण मानव जीवन के लिए घातक | #AAPKIUMMID

  • कलवारी में आयोजित हुई गंगा मुक्ति यात्रा पर संगोष्ठी

सिकरारा, जौनपुर। प्रसिद्ध पर्यावरणविद जलपुरुष राजेन्द्र सिंह के नेतृत्व में हरिद्वार से शुरू की गई गंगा मुक्ति यात्रा बुधवार को जौनपुर पहुँची। जनपद में कार्यक्रम के पश्चात दल कलवारी स्थित राहुल महाविद्यालय परिसर पहुँचा जहाँ गंगा मुक्ति विषयक संगोष्ठी का आयोजन किया गया।
संगोष्ठी में वक्ताओं ने पर्यावरण प्रदूषण रोकने के लिए नदियों और तालाबो की सफाई पर जोर दिया। जल विरादरी के जिला संयोजक मुरलीधर निषाद ने कहा ​कि नदी, नाव और घाट हमेशा समाज के अधीन रहे हैं। जीवन यापन के इन मूलस्रोतों का बाजारीकरण हमें विनाश की ओर ले जाता है। केंद्र व राज्य सरकारों द्वारा जन अधिकार सुरक्षित करने के लिए कड़े कानून बनाने की जरूरत है।
राहुल महाविद्यालय के प्रबन्धक अमिताभ सिंह डब्बू ने कहा कि गंगा मुक्ति अभियान से लोगों को अधिक से अधिक जोड़ने की जरूरत है। प्राचार्य डॉ. अजय कुमार श्रीवास्तव ने पर्यावरण, नदियों और तालाबों की सुरक्षा के लिए युवाओं के आगे आने का आह्वान किया।
गोष्ठी में डॉ. धर्मेंद्र कुमार यादव, डॉ. सन्तोष कुमार, मनीष कुमार, रमेश कुमार, रुबीना, राजकेसर, श्याम बिहारी, संजय कुमार, प्रियंका, आनन्द शर्मा आदि ने अपने विचार व्यक्त किये।
प्रारम्भ में गंगा मुक्ति अभियान दल के प्रदेश संयोजक डॉ. आर्यशेखर, डॉ. अर्जुन पांडेय, द्विजेन्द्र विश्वात्मा ने गंगा मुक्ति के लिए 111 दिनों तक उपवास रखकर उत्तराखंड सरकार से लड़ते हुए अपने प्राण न्योछावर करने वाले पर्यावरणविद डॉ. सानन्द स्वामी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उनका बलिदान बेकार नहीं जाएगा। जीनोम फाउंडेशन के समन्वयक अरुण कुमार सिंह ने आभार ज्ञापित किया।



नीचे दिए गए प्लेटफार्मों से जुड़कर लगातार पढ़ें खबरें...

-----------------------------------------------------------
हमारे न्यूज पोर्टल पर सस्ते दर पर कराएं विज्ञापन।
सम्पर्क करें: मो. 8081732332, 9918557796
-----------------------------------------------------------
आप की उम्मीद न्यूज पोर्टल
डिजिटल खबर एवं विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें।
मो. 8081732332, 9918557796
-----------------------------------------------------------


-----------------------------------------------------------


-----------------------------------------------------------

Post Bottom Ad