• रेस्क्यू करने पहुंची टीम ने बताया बनबिलाव

डा. प्रदीप दूबे
सुइथाकला, जौनपुर। स्थानीय क्षेत्र के शेखाही नहर की पुलिया के पास नहर में तेंदुए के होने की सूचना पर जहां क्षेत्रीय लोगों में हड़कंप मचा हुआ था। वहीं सूचना पर रेस्क्यू करने पहुंची बन विभाग टीम ने मृत अवस्था पड़े उक्त तेंदुए को वन बिलाव बताया। तब जाकर लोगों ने राहत की सांस ली।शुक्रवार सुबह क्षेत्र के उक्त गांव की पुलिया के पास नहर में तेंदुए के बच्चे के होने की सूचना पर क्षेत्रीय लोगों में हड़कंप मच गया। जिसकी सूचना लोगों द्वारा वन विभाग को दी गई। सूचना पर वन दरोगा हरिश्चंद्र सरोज जब रेस्क्यू टीम के साथ जब मौके पर पहुंचे तो उन्होने मृत अवस्था में मिले वन्यजीव को बनबिलाव बताया।

 तब जाकर लोगों ने राहत की सांस ली। लोगों की माने तो ग्रामीणों द्वारा उसे जीवित अवस्था में देखा गया था। अब सवाल यह उठता है कि तेंदुआ हो या वन बिलाव जब वह लोगों को जीवित अवस्था में मिला तो उसकी मौत कैसे हुई? जब मौत के कारण के बारे में पूछा गया तो वन दरोगा ने उसकी पुष्टि के लिए पोस्टमार्टम करवाने की बात कहते हुए उसके शव को कब्जे में ले लिया।