जौनपुर: राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनी लौहपुरूष की 144वीं जयंती | #AAPKIUMMID - उम्मीद

Breaking

Thursday, October 31, 2019

जौनपुर: राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनी लौहपुरूष की 144वीं जयंती | #AAPKIUMMID


  • रन फार यूनिटी में शामिल हुये लोग, जगह-जगह गोष्ठी आयोजित

जौनपुर। लौहपुरूष व भारत रत्न सरदार बल्लभ भाई पटेल की 144वीं जयंती गुरूवार को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनायी गयी। इस मौके पर जहां रन फार यूनिटी कार्यक्रम किया गया, वहीं जगह-जगह गोष्ठी करके उनके व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला गया।

रन फार यूनिटी दौड़ पुलिस लाइन से शुरू होकर विकास भवन पर समाप्त हुई जिसमें राज्यंमत्री गिरीश चन्द्र यादव, पूर्व सांसद केपी सिंह, विधायक डा. हरेन्द्र प्रसाद सिंह, पूर्व विधायक सुरेन्द्र सिंह, जिलाधिकारी दिनेश सिंह, आरक्षी अधीक्षक रविशंकर छवि, मुख्य विकास अधिकारी गौरव वर्मा, जिला विकास अधिकारी दयाराम वर्मा सहित तमाम लोग शामिल रहे। सभी ने विकास भवन परिसर में स्थित सरदार पटेल की प्रतिमा पर माल्यार्पण करके उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किया। साथ ही जिलाधिकारी ने राष्ट्रीय एकता बनाये रखने के लिये सभी को शपथ दिलायी। तत्पश्चात क्रान्ति स्तम्भ पर माल्यार्पण एवं पुष्प अर्पित किया गया जिसके बाद राज्यमंत्री श्री यादव ने कहा कि हम सरदार जी के दिखाये रास्ते पर चलकर राष्ट्रीय एकता को अक्षुण्य बनाये रखा जा सकता है। इसी प्रकार आरक्षी अधीक्षक रविशंकर छवि ने पुलिस कार्यालय, मुख्य विकास अधिकारी ने विकास भवन में तथा समस्त कार्यालयाध्यक्षों ने अपने कार्यालयों में राष्ट्रीय एकता बनाये रखने की शपथ दिलायी। इस दौरान सूचना विभाग द्वारा कलेक्ट्रेट में सरदार पटेल के जीवन पर आधारित फिल्म का प्रदर्शन एलईडी वैन के माध्यम से किया गया।

सरदार सेना के जिलाध्यक्ष अरविन्द पटेल के नेतृत्व में लौहपुरूष, भारत रत्न, आधुनिक भारत के निर्माता पटेल जी की जयन्ती मनायी गयी। इस दौरान विकास भवन परिसर में स्थित सरदार पटेल की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया जहां जिलाध्यक्ष श्री पटेल ने सरदार पटेल के जीवन पर प्रकाश डाला। साथ ही कहा कि वह देश की एकता के सूत्रधार थे। गृह मंत्री बनने के बाद भारतीय रियासतों के विलय की जिम्मेदारी उनको ही सौंपी गयी थी जिस पर उन्होंने अपने दायित्व का निर्वहन भी ईमानदारी से किया। इस अवसर पर राजकुमार सिंह, वृजेन्द्र पटेल, मुन्ना लाल, बृजेश पटेल, अवधेश मौर्य, अखिलेश मौर्य, रितिक पटेल, दिनेश चौहान, डा. सन्तोष शर्मा, सिन्टू पटेल, महेन्द्र चौधरी सहित तमाम कार्यकर्ता मौजूद रहे।

जिला एवं शहर कांग्रेस कमेटी द्वारा भारत रत्न स्व. इंदिरा गांधी की शहादत दिवस पर लौहपुरूष सरदार पटेल की जयंती पर शहर कांग्रेस कमेटी कार्यालय पर कार्यक्रम हुआ। इस मौके पर उपस्थित लोगों ने उनके चित्र पर माल्यार्पण व पुष्पांजलि अर्पित करते हुये श्रद्धांजलि दिया। तत्पश्चात् जिलाध्यक्ष फैसल हसन तबरेज ने कहा कि देश में आज भी इंदिरा जी के साहस को याद किया जाता है। उनके द्वारा किये गये कार्यों की बदौलत भारत शक्तिशाली देश बना। पटेल जी की नीतियों पर हम सबको चलना चाहिये। कार्यक्रम का संचालन शहर अध्यक्ष नियाज ताहिर ने किया। इस अवसर पर आजम जैदी, राकेश सिंह, शिव मिश्रा, देवानन्द मिश्रा, नीरज राय, राजकुमार मौर्या, जावेद खां, शैलेन्द्र सिंह, शाहनवाज खान, राणा सिंह, मुफ्ती मेंहदी, अशरफ अली, राजकुमार गुप्ता, राजेश गौतम आदि उपस्थित रहे।

नगर के मदरसा दारूल इरफान बोदकरपुर में पटेल जी की जयंती राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनायी गयी। कार्यक्रम की अध्यक्षता वसीउल्लाह अंसारी प्रबंधक इण्टेलेक्चुअल पब्लिक स्कूल ने किया जहां मुख्य अतिथि सफीउज्जमा अंसारी पदाधिकारी जमात-ए-इस्लामी हिन्द रहे। इस मौके पर उपस्थित लोगों ने पटेल जी जीवन पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम की शुरूआत छात्रा मंतशा द्वारा तिलावत-ए-कुरान पाक से की गयी जिसके बाद मंतशा, सनोबर, सानिया, अरीबा, समीउज्जमा अंसारी ने नज्म, स्पीच आदि के माध्यम से पटेल जी के आदर्शों पर चलने हेतु प्रेरित किया। इस अवसर पर प्रधानाचार्य अल्ताफ उरर्हमान सल्फी, सुमनलता, मुर्तजा हसन मदनी, नुरूल हुदा, इरशाद अहमद, जकाउल्लाह, शमशाद, हाजरा, अकबर, अब्दुल्लाह, शाहीन आरा, सोनाली, तहसीन, बबीता, निशा, ब्रह्म यज्ञ मिश्र, नीरज आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन मोहम्मद आरिफ अंसारी ने किया।

भाजपा नेता अशोक पटेल ने विकास भवन परिसर में लौहपुरूष की 144वीं जयंती मनायी जहां उन्होंने स्थित श्री पटेल की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। साथ ही कहा कि पटेल जी का देश की एकता व अखण्डता सहित राष्ट्र निर्माण में बहुत बड़ा योगदान है। उन्होंने 565 छोटी-बड़ी देशी रियासतों को भारत में मिलाकर बहुत महान कार्य किया है। इस अवसर पर रमाशंकर पटेल, सानू पटेल, मयंक पटेल, जगदीश सिंह पटेल सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।

सिद्दीकपुर संवाददाता के अनुसार वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय परिसर में लौहपुरूष की जयंती मनायी गयी जहां प्रो. अजय द्विवेदी अधिष्ठाता छात्र कल्याण ने विद्यार्थियों को एकता की शपथ दिलवायी। साथ ही उन्होंने सरदार पटेल के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला। इसी क्रम में विद्यार्थियों ने विवि के मुख्य द्वार पर एकत्रित होकर देशभक्ति का नारा लगाते हुये एकलव्य स्टेडियम तक एकता के लिये दौड़ लगायी। इस अवसर पर प्रो. राजेश शर्मा, डा. एसपी तिवारी, शुभांशु, प्रभाकर, ऋषि श्रीवास्तव, अबू सलेह, डा. संजय श्रीवास्तव, पंकज पाण्डेय आदि उपस्थित रहे।

शाहगंज संवाददाता के अनुसार स्थानीय नगर पालिका परिषद में सरदार पटेल का जन्मदिन मनाया गया जहां उपस्थित सभी लोगों ने उनको अपनी श्रद्धा सुमन अर्पित किया। साथ ही अध्यक्ष श्रीमती गीता जायसवाल ने कहा कि आज के समय में लौहपुरुष कहे जाने वाले सरदार पटेल का जीवन अनुसरणीय है। आप हम सबने जो शपथ ली है, उसे निश्चित तौर अपने जीवन में उतारें। इसके पहले कार्यक्रम की शुरुआत चेयरमैन गीता जायसवाल ने सरदार पटेल के चित्र पर माल्यापर्ण किया। तत्पश्चात् अधिशासाी अधिकारी दिनेश कुमार, चेयरमैन प्रतिनिधि प्रदीप जायसवाल, सभासद उमेश चन्द्र अग्रहरि, श्रेयांश गुप्ता, सिम्पू, धर्मेन्द्र यादव ने श्री पटेल के चित्र पर पुष्प अर्पित किया। इसी क्रम में जितेन्द्रवीर वर्मा, प्रदीप जायसवाल, अधिशासी अधिकारी दिनेश कुमार सहित अन्य ने अपना विचार व्यक्त किया। संचालन सभासद प्रतिनिधि जफर हसन ने किया। इस अवसर पर तमाम सभासद, प्रतिनिधि, नगर पालिका के अधिकारी, कर्मचारी आदि उपस्थित रहे। आरआई सुरेन्द्र शर्मा ने सभी के प्रति आभार जताया।
सुइथाकला संवाददाता के अनुसार स्थानीय क्षेत्र के गांधी स्मारक पीजी कालेज समोधपुर में राष्ट्र को एकता के सूत्र में बांधने वाले लौहपुरूष की जयन्ती मनायी गयी जहां छात्र-छात्राओं द्वारा रन फार यूनिटी कार्यक्रम के अन्तर्गत दौड़ प्रतियोगिता हुई। पटेल जी के कृतित्व एवं व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुये प्राचार्य डा. रणजीत पाण्डेय ने कहा कि सरदार जी ने सूखाग्रस्त खेड़ा क्षेत्र में वहां के किसानों को कर में छूट देने की अंग्रेजों से मांग की लेकिन ब्रिटिश हुकूमत ने उनकी मांग को स्वीकार नहीं किया। तब सरदार पटेल, महात्मा गांधी सहित अन्य लोगों ने किसानों का नेतृत्व करते हुये उन्हें कर न देने के लिये प्रेरित किया। अंततः अंग्रेजों को झुकना पड़ा जिसके बाद किसानों को कर में राहत मिली। इस अवसर पर अरविन्द सिंह, डा. अवधेश मिश्रा, डा. अविनाश वर्मा, डा. नीलमणि सिंह, डा. इन्द्र बहादुर सिंह, डा. संदीप सिंह, बिन्द प्रताप सिंह, अखिलेश सिंह, पंकज कुमार आदि उपस्थित रहे।




DOWNLOAD APP



No comments:

Post a Comment

नीचे दिए गए प्लेटफार्मों से जुड़कर लगातार पढ़ें खबरें...

-----------------------------------------------------------
हमारे न्यूज पोर्टल पर सस्ते दर पर कराएं विज्ञापन।
सम्पर्क करें: मो. 8081732332
-----------------------------------------------------------
आप की उम्मीद न्यूज पोर्टल
डिजिटल खबर एवं विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें।
मो. 8081732332
-----------------------------------------------------------


-----------------------------------------------------------


-----------------------------------------------------------

Post Bottom Ad