जौनपुर: एसओ ने कहा, मंत्री व विधायक से कह देना मैं आया था...तो एसपी ने किया लाइन हाजिर | #AAPKIUMMID - उम्मीद

Breaking

Monday, July 23, 2018

जौनपुर: एसओ ने कहा, मंत्री व विधायक से कह देना मैं आया था...तो एसपी ने किया लाइन हाजिर | #AAPKIUMMID

जौनपुर। शासन में ऊंची पकड़ होने के चलते अपने पद का दुरुपयोग करने वाले खेतासराय के थानाध्यक्ष योगेन्द्र सिंह को आखिरकार उनकी करनी का फल मिल ही गया। मंत्री, विधायक और अध्यक्ष को अपशब्दों से नवाजने का वीडियो वायरल होते ही पुलिस अधीक्षक ने चर्चाओं में रहने वाले थानाध्यक्ष को लाइन हाजिर कर दिया। थानाध्यक्ष को लाइन हाजिर हो जाने से आम जनता राहत महसूस कर रही है।
सफीपुर गांव में देवनाथ यादव और राजेन्द्र यादव के बीच आबादी की जमीन को लेकर वर्षों से विवाद चल रहा है। रविवार को एक पक्ष अपने मड़हा के नीचे ईंट की दीवार खड़ी कर रहा था। दूसरे पक्ष की शिकायत पर थानाध्यक्ष योगेन्द्र सिंह हल्का दरोगा और पुलिस फोर्स के साथ पहुंच गये। पुलिस ने दूसरे पक्ष से दीवार के कुछ भाग को गिरवा दिया। इस पर दीवार उठा रहे पक्ष ने विरोध किया तो थानाध्यक्ष उस पर बिफर पड़े। फिर बिना नाम लिए मंत्री, विधायक और अध्यक्ष के प्रति अपशब्द बोलते हुए कहने लगे कि जाओ मेरा संदेश उन्हें दे देना।
इस दौरान किसी ने मोबाइल से थानाध्यक्ष द्वारा कहे जा रहे सारी बातों की वीडियो बना लिया। और देर रात्रि वीडियो को सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होते ही पुलिस अधीक्षक दिनेश पाल सिंह ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए थानाध्यक्ष योगेंद्र सिंह को लाइन हाजिर कर दिया। थानाध्यक्ष योगेंद्र सिंह इससे पहले भी चर्चाओं में रहे हैं। लेदरही गांव में पशु तस्करी के एक आरोपी से 40 हजार रुपये लेकर उसे छोड़ देने का मामला चर्चाओं में रहा। अखबारों में यह मामला प्रकाशित हुआ था। इसके बाद खदान पर प्रतिबंध के बावजूद पैसे लेकर रात्रि में मिट्टी गिरवाया जाति रहा।
5 मई को गुरैनी में एक वृद्धा की हुई हत्या के मामले पर पर्दा डालने की कोशिश की जाती रही है। जिसका खुलासा अभी तक नहीं कर पाये। पाराकमाल में एक सउदी अरब के कारोबारी को गोली मारने के मामले में एक भी आरोपी को गिरफ्तार करने में असफल रहे। जबकि एक आरोपी ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया। लतीफपुर गांव में 29 अप्रैल की रात बहू ने प्रेमी संग मिलकर अपने ससुर की हत्या कर शव रेलवे लाइन पर फेंक दिया था। ससुर की हत्या में शामिल बहू को पुलिस ने गिरफ्तार कर जैल भेज दिया। लेकिन हत्या में नामजद उसके प्रेमी को पुलिस आजतक गिरफ्तार नहीं कर पायी। हर मामले में लम्बी रकम का खेल चलता रहा। आखिरकार सफीपुर मामले में मंत्री विधायक को अपशब्दों से नवाजने वाले चर्चित थानेदार योगेन्द्र सिंह के पाप का घड़ा भर गया। और वीडियो वायरल होने पर उन्हें लाइन हाजिर होना पड़ा।

नीचे दिए गए प्लेटफार्मों से जुड़कर लगातार पढ़ें खबरें...

-----------------------------------------------------------
हमारे न्यूज पोर्टल पर सस्ते दर पर कराएं विज्ञापन।
सम्पर्क करें: मो. 8081732332, 9918557796
-----------------------------------------------------------
आप की उम्मीद न्यूज पोर्टल
डिजिटल खबर एवं विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें।
मो. 8081732332, 9918557796
-----------------------------------------------------------


-----------------------------------------------------------


-----------------------------------------------------------

Post Bottom Ad